एफपीओ क्या है | FPO का फुल फॉर्म | एफपीओ कैसे बनाए (ऑनलाइन पंजीकरण)

एफपीओ (FPO) से सम्बंधित जानकारी

केंद्र सरकार द्वारा कृषि के क्षेत्र को आगे बढ़ाने के लिए किसानो को सहायता प्रदान कर उन्हें समृद्ध बनाने की योजना बन रही है | इसके लिए FPO द्वारा किसानो के समूहों को तैयार किया जायेगा | FPO किसानो का एक ऐसा समूह होता है, जिसमे किसानो के कृषि उत्पादक के कार्य को आगे बढ़ाने का काम किया जाता है | देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा PM Kisan FPO Yojna का आरम्भ उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले से की गई |

योजना के संचालन के लिए केंद्र सरकार द्वारा 5,000 करोड़ रूपए खर्च किये जायेंगे | FPO के माध्यम से किसानो को उनकी फसल के अच्छे दाम प्राप्त हो सकेंगे | इस पोस्ट में आपको एफपीओ क्या है, FPO का फुल फॉर्म, एफपीओ कैसे बनाए (ऑनलाइन पंजीकरण) के बारे में जानकारी दी जा रही है |

अल्पकालीन फसली ऋण योजना 2021

 एफपीओ का फुल फॉर्म (FPO Full Form)

एफपीओ को हिंदी भाषा में ‘कृषक निर्माता कंपनी’ तथा अंग्रेजी भाषा में इसका फुल फॉर्म FPO- Former Producer Organizations  कहा जाता है |

एफपीओ क्या है (What is FPO)

यह किसानो का एक संगठित समूह होता है, जिसका कार्य कृषि के उत्पादन कार्यो को बढ़ाना और कृषि से सम्बंधित व्यावसायिक गतिविधियों के बारे में किसानो को बताना | यदि किसान भाई चाहे तो एक समूह बनाकर कंपनी एक्ट में रजिस्टर्ड कर FPO तैयार कर सकते है | FPO कृषि करने वाले किसान तथा व्यावसायिक गतिविधियों को चलाने में सामान विचार रखने वाले किसान, एक या एक से अधिक गावो के किसान मिलकर इस तरह के समूह को स्वयं तैयार कर सकते है |

FPO का फायदा यह होगा कि किसानो को अपनी फसल के अच्छे दाम प्राप्त होंगे, और खरीदारों को भी उचित मूल्य पर उत्पादन प्राप्त होगा | इसके अलावा वह व्यक्ति जो अपनी फसल को बेचने के लिए अकेले ही चला जाता है, उसका मुनाफा बिचौलियों को मिल जाता है | FPO में आवेदन कर किसान अनेक प्रकार के लाभों को प्राप्त कर सकते है | देश के केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि देश में वर्ष 2019-20 से लेकर 2023-24 तक तक़रीबन 10,000 नए FPO का संगठन किया जायेगा | जिससे किसानो में सामूहिक शक्ति का विस्तार होगा |

कृषि इनपुट अनुदान योजना 2021 क्या है

एफपीओ के लाभ (FPO Benifits)

  • यह एक सीमांत व लघु किसानो का समूह होगा,इस समूह से जुड़े किसानो को अपनी उपज के अच्छे दाम मिलेंगे साथ ही उन्हें खाद, बीज, दवाये और कृषि उपकरणों को खरीदने में भी आसानी होगी |
  • किसानो द्वारा एफपीओ समूह को संगठित करने के बाद मिलने वाली सेवाएं सस्ते दामों पर प्राप्त हो जाएँगी, इसमें बिचौलियों का कोई काम नहीं होगा |
  • इस FPO के माध्यम से किसानो को अपने उत्पादन के अच्छे दाम प्राप्त करने के लिए एक सीधा मार्केट मिल जायेगा |
  • FPO संगठन समूह को तैयार करने के बाद किसानो के मध्य एकजुटता देखने को मिलेगी और भविष्य में उनका शोषण नहीं होगा |
  • केंद्र सरकार आगामी 5 वर्षो में लगभग 10 हजार कृषि उत्पादक संगठनों को तैयार करने में लगी है |

बीज ग्राम योजना 2021 क्या है 

एफपीओ कैसे बनाये (How to Make FPO)

  • देश का कोई भी किसान FPO समूह का सदस्य बन सकेगा |
  • FPO संगठन में 10 लाख वर्किंग कैपिटल की जरूरत होगी |
  • एक संगठन को तैयार करने में न्यूनतम 10 किसानो का होना जरूरी है |
  • एक संगठन में अधिकतम 1000 किसानो को ही जोड़ा जा सकेगा |
  • एक हजार किसान समूह वाले संगठन का प्रत्येक किसान एक हजार रूपए देकर दस लाख के वर्किंग कैपिटल को जुटा सकेगा |
  • किसानो को FPO में आवेदन कराने के लिए कुछ शुल्क देना होता है |
  • CSC VLE वाले किसान इस संगठन का हिस्सा नहीं होंगे |

चारा और चारा विकास योजना 2021 क्या है

एफपीओ में पंजीकरण कैसे करे (FPO Online Registration)

  • सर्वप्रथम आपको FPO की आधिकारिक वेबसाइट http://www.upagriculture.com पर जाना होगा |
  • आपके सामने वेबसाइट का Home Page खुल कर आ जायेगा |
  • इस होम पेज में आपको ऑनलाइन पंजीकरण के लिंक पर क्लिक करना होगा |
  • आपके सामने एक फॉर्म खुल कर आ जायेगा |
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारियों को ठीक-ठीक भरना होगा |
  • फॉर्म को ठीक तरह से भरने के बाद आपको Submit बटन पर क्लिक करना होगा |
  • इस तरह से FPO में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है |

राष्ट्रीय सतत कृषि मिशन योजना क्या है