Elephant Apple in Hindi | Benefits, Hindi Name, Images


एलीफैंट एप्पल (Elephant Apple Farming) से सम्बंधित जानकारी

भारत विभिन्नताओं का देश है, यहाँ की प्रकृति अन्य देशों की तुलना में अलग है | यहाँ की जलवायु कई प्रकार की है, इसलिए यहाँ पर पेड़ – पौधें भी जलवायु के मुताबिक ही उत्पादित होते है | इसी कड़ी में हम फलों की बात करने जा रहे है, जिसमे इस आर्टिकल में आपको हाथी सेब (Elephant Apple) के बारे में बताया जायेगा | भारत में सेब की खेती बड़ी पैमाने पर की जाती है, सेब का उत्पादन करने वाले किसान इससे अच्छी रकम कमाते है |

सेब का मूल्य ज्यादातर अन्य फलों की तुलना में महंगा होता है | लेकिन जब बात Elephant Apple की आती है, तो इसकी मांग और अधिक देखने को मिलती है, लेकिन यह सेब इतनी आसानी से प्राप्त नहीं हो पाता है| हाथी सेब बहुत ही उपयोगी माना जाता है | इसलिए आपको यहाँ हम Elephant Apple in Hindi, Benefits, Hindi Name, Images से सम्बन्धित जानकारी को बतायेंगे, जिससे आप इसकी सही प्रजाति का पहचान कर पाएंगे और आप जान पाएंगे की इसे किस तरह की जलवायु में उत्पादित कर पाएंगे|

एलीफैंट एप्पल का हिंदी नाम (Elephant Apple Hindi Name)

भारत में हाथी सेब (Elephant Apple) को हिंदी में कई नामों से जानते है, इसे डिलेनियाइंडिका, एलिफेंट एप्पल, हाथी सेब या चल्ता कहा जाता है, जो केवल भारत के जंगलों के पास निवास करने वाले जनजातियों का पसंदीदा ही नहीं है, बल्कि उसके नाम के अनुसार जंगली एशियाई हाथियों के सबसे पसंदीदा फलों में से प्रमुख है |

Elephant Apple in Hindi

अगर Elephant Apple की बात भारत में की जाये तो, हाथी सेब के कुछ पेड़ देश के रिजर्व जंगलों में पाए जाते हैं, परन्तु अगर भारत के राज्य झारखंड की करे तो इस राज्य के जंगलों में इनकी उपलब्धता बहुत कम मात्रा में है | झारखंड सहित भारत के अन्य जंगलों में इसके वृक्ष यदि लगा दिए जाएं तो हाथियों को जंगल छोड़कर गांवों और कस्बों में आने से रोकने में सक्षम हो सकते है, क्योंकि यह सेब हाथियों को इतना अधिक प्रिय है कि दूसरे जानवरों के साथ इसकी साझेदारी भी नहीं करते हैं, इसके अलावा कोकर और रांची के कई भागों पर भी इसकी मौजूदगी देखने को मिलती है |

हाथी सेब के लाभ (Elephant Apple Benefits)

  • हाथी सेब यानि कि Elephant Apple में बहुत से उपचारात्मक गुण विद्यमान होते हैं |
  • इस फल के सेवन से घबराहट, पेट खराब और थकान का इलाज करने में मदद करता है |
  • हाथी सेब का दस्त और कैंसर के इलाज में इसकी पत्तियों की छाल और इसका रस दिया जाता है, जिससे बीमार व्यक्ति को लाभ प्राप्त होता है |
  • इस फल से निकलने वाले चिपचिपे पदार्थ को सर में रगड़ने से बालों में रूसी को कम करता है और बालों को झड़ने से रोकता है।
  • इस फल में एंटीडायबिटिक गुण और उच्च मात्रा में फाइटोकेमिकल्स पाए जाते हैं। इस तरह के सेब में रोगाणुरोधी गुण होते हैं |
  • इस पेड़ की छाल में एनाल्जेसिक गुण पाए जाते हैं, इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी जैसे गुण भी विद्दमान होते हैं, फल फेनोलिक्स से भरपूर होता है |
  • इसके अलावा हाथी सेब के फलों से अचार, जैम बनाने के अतरिक्त स्थानीय व्यंजनों में इस्तेमाल किया जाता है |
  • इसके फलों में ऐसे अवयव भी हैं, जिनमें डायबिटीज नियंत्रण की क्षमता पायी जाती हैं।
  • हाथी सेब की छाल का प्रयोग जनजातियां डायरिया बीमारी की रोकथाम के लिए भी प्रयोग करते है |

एलीफैंट एप्पल की फोटो (Elephant Apple Images)

एलीफैंट एप्पल से सम्बंधित अन्य जानकारी

भारत के कुछ जंगलों और रिजर्व फॉरेस्ट ‘कोर एरिया’ से फलों को तोड़ना या फिर गिरे हुए फलों को भी जंगल से बाहर लेकर आने पर भी कानूनी अपराध में आता है। ऐसा नियम इसलिए बनाया गया है, क्योंकि यह फल जंगली शाकाहारी जानवरों के खाने में कमी न आये | इसके अतरिक्त इन फलों के बीजों को अंकुरण हेतु प्राकृतिक वातावरण और माध्यम से और उगाया जा सके और प्रजाति बढती रहे |