सरसो का तेल निकालने की मशीन | सरसों पेरने वाली मशीन की कीमत | स्पेलर मशीन क्या है | 1 किलो सरसों में कितना तेल निकलेगा


सरसो का तेल निकालने की मशीन से सम्बंधित जानकारी

भारत में लगभग सभी तरह की खेती की जाती है | जिसमे से एक सरसो की खेती है | यह एक ऐसी फसल जिसके बारे लगभग सभी लोगो को पता होता है | सरसो का दाना आकार में छोटा, सफ़ेद, और काले रंग का होता है | इन दानो से तेल निकाला जाता है | पूरे देश में ही इसके तेल का उपयोग खाना बनाने के लिए करते है | ऑयल सीड के उत्पादन में भारत सबसे बड़ा देश है | सरसो के दानो से तेल को निकालने का व्यापार रोजगार का एक बेहतर विकल्प भी है |

यदि आपके पास उपयुक्त भूमि और पर्याप्त पैसा है, तो आप सरसो से तेल निकालने वाली मशीन को अपने स्थान पर लगाकर व्यवसाय आरंभ कर अपनी आमदनी को बढ़ा सकते है | इस लेख में आपको सरसो का तेल निकालने की मशीन, सरसों पेरने वाली मशीन की कीमत तथा स्पेलर मशीन क्या है और 1 किलो सरसों में कितना तेल निकलेगा जैसी महत्वपूर्ण जानकारी दी जा रही है |

सरसो का तेल निकालने की मशीन (Mustard oil Expeller Machine)

सरसो के तेल को निकालने के लिए जिस मशीन का इस्तेमाल किया जाता है, उसे स्पेलर मशीन (Speller Machine) कहते है | इस मशीन में सरसो के दानो को डालकर मशीन चलाई जाती है | जिसके बाद तेल निकलना आरंभ हो जाता है | इस मशीन को लगाकर आप छोटे या बड़े स्तर पर व्यापार कर सकते है | मशीन में सरसो के दानो को डालने से पहले बीजो को ठीक तरह से अवश्य सूखा ले, ताकि सरसो का पानी ठीक तरह से सूख जाए | इसके बाद सरसो को मशीन में डालें और तेल निकालना शुरू कर दे | तेल निकालने के पश्चात बचे हुए भाग को जिसे खली कहते है | उसे खाद या मवेशी को खिलने के लिए उपयोग कर सकते है |

सरसों पेरने वाली मशीन की कीमत (Mustard Crushing Machine Price)

आप सरसो के तेल को निकालने का काम उच्च स्तर पर कर सकते है, जिसके लिए आपको अपने ब्रांड का नाम रखना होगा और काम करने के लिए लोगो की जरूरत पड़ेगी | इससे कस्टमर आपके तेल से अधिक प्रभावित होगा और उसे अधिक वरीयता देकर खरीदने में इच्छुक होगा | आपके तेल का ब्रांड नाम आपके तेल की प्रमाणिकता को बढ़ाता है | इससे लोग आपके तेल पर अधिक विश्वास कर पाते है | एक बार ब्रांड बन जाने पर आप अपना ब्रांड नाम और प्रतिक चिन्हय को रजिस्टर्ड कर अपने ब्रांड को हमेशा के लिए स्थापित कर सकते है | सरसो मिल स्टार्ट करने के लिए आपको 15 KW / 20HP (Horse Power) की एक मोटर लगानी पड़ेगी | जिसकी कीमत 40 हजार रूपए तक है | इसके अलावा भी कई बड़ी मशीने होती है, जिन्हे आप जरूरत के अनुसार या अधिक काम बढ़ने पर लगवा सकते है |

स्पेलर मशीन क्या है (Speller Machine)

स्पेलर एक मल्टी फंक्शनल वाली यूनिक होम कोल्ड ऑयल प्रेस मशीन होती है | जिसका इस्तेमाल बीजो से ऑयल निकालने के लिए किया जाता है| यदि आप एक छोटी मशीन लेते है, तो आप 400 वाट पावर वाली मशीन ले सकते है, जिसका वजन लगभग 13 KG तक होता है, और क्षमता 3 से 6 KG / Hr होती है | यह मशीन 220v पर चलती है | जिसमे लगा मटेरियल स्टेनलेस स्टील का होता है | यह एक अद्वितीय तकनीक वाली साधारण मशीन होती है | जो बाजार का परिदृश्य बदल सकती है | इस मशीन की सहायता से आप नारियल, सोयाबीन, सूरजमुखी के बीज, मूंगफली, तिल, अखरोट, सन के बीज, सब्जियों के बीज, कास्टर के बीज, बादाम और सरसो के बीजो को पिराई कर उसका तेल निकाल सकते है | इन छोटी मशीन को आप लगातार 4 से 5 घंटे तक चला सकते है |

जिसके बाद आप इसे थोड़ी देर के लिए बंद कर दे, ताकि मशीन अधिक गर्म न हो | इस मशीन से आपको यह लाभ होगा, कि आप कम खर्च में आसानी से शुद्ध तेल प्राप्त कर सकते है, तथा बड़ी मशीनों की तुलना में इसे चलाना काफी आसान है | इस मशीन की विशेषता यह है, कि आप इससे 100 से अधिक बीज जैसे :- अलसी, तुरई, हेज़लनट, जेट्रोफ़ा, अरगन, कपास, कैंडलनट, पाम कर्नेल, रेप, कुसुम, तिल, शीया, सोयाबीन, चिया, मूंगफली, अंजीर, ब्लैककॉर्न, सरसों, सूरजमुखी, सेब, अनार, भांग, कद्दू, मैकेडेमिया, जीरा, बादाम, मरुला, नारियल, अफीरी, सैंडडोर्न, अंगूर और अखरोट के अलावा भी अनेक बीज शामिल है, जिनकी पिराई कर स्वास्थ के साथ-साथ आप प्राकृतिक स्वाद का भी आनंद ले सकते है |

1 किलो सरसों में कितना तेल निकलेगा (Oil Produced in 1KG Mustard)

यदि आप यह जानना चाहते है, कि आप 1 KG सरसो के बीज से कितना तेल निकाल सकते है | तो आप यह जान ले कि गुणवत्ता के अनुसार 1 किलो सरसो से 25 से 30% तेल प्राप्त होता है | यानि आपको 250 से 300 ML तक का तेल प्राप्त हो जाता है | इस तरह से यदि गणना करे तो 50 KG सरसो के बीज से (50X300 = 15000 ML /15 Litr) तेल औसत मात्रा में मिल जाता है | सरसो की क्वालिटी के अनुसार तेल की मात्रा कम ज्यादा हो सकती है |

सरसो के बीज से तेल निकालने का तरीका (Mustard Seeds Extract Oil)

  • यदि आप बड़ी मात्रा में सरसो के बीजो का तेल निकालना चाहते है, तो आप सरसो को खरीदते समय एक बात पर जरूर ध्यान दे कि बीज टूटा हुआ या सूखा न हो, सूखा हुआ बीज बहुत पुराना होता है, जिससे तेल भी बहुत कम मात्रा में निकलता है | इसलिए अच्छी गुणवत्ता वाले ही सरसो को चुने ताकि अधिक मात्रा में तेल प्राप्त हो सके | 
  • सरसो की पिराई के लिए मशीन में डालने से पहले सरसो में से कंकड़ पत्थर निकाल दे | ऐसा न करने से मशीन में खराबी आ सकती है, और तेल में पत्थर मिल जाने से गुणवत्ता भी ख़राब हो जाती है | इसलिए आप कंकड़ पत्थर को अवश्य निकाल दे | पत्थर को आप हाथ या मशीन की सहायता से भी निकाल सकते है |
  • सरसो के बीज से भूसे को निकालने के लिए ब्लोविंग एयर या इस्तेमाल किया जाता है, और फिर कंडीशनिंग की जाती है |
  • इसके बाद बीजो को गर्म करते है, ताकि बीजो में मौजूद जीवाणु नष्ट हो जाए |
  • अब सरसो के बीज मशीन में डालने के लिए तैयार हो जाते है, तथा बीज को मशीन में डालें और पीसकर तेल निकाल ले, जिसे किसी बर्तन या बड़ी चीज में जमा कर ले |
  • अब मशीन से निकाले गए तेल में कुछ बीज के अंश आ जाते है, जिन्हे अलग करने के लिए फ़िल्टर मशीन को उपयोग में लाते है, और फ़िल्टर प्रक्रिया अपनाई जाती है |
  • इसके बाद आपका तेल घरेलू उपयोग और बाजार में बिकने के लिए तैयार हो जाता है, जिसे पैक कर बाजार में बेचने के लिए भेज दे |